जोमैटो अब घर-घर ड्रोन के जरिये खाने-पीने की चीजें पहुँचाने की तैयारी में है। बुधवार को जोमैटो के खाद्य वितरण प्रमुख ने कहा है की उन्होंने ड्रोन तकनीक के माध्यम से खाद्य वितरण का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। पिछले साल दिसंबर में, जोमाटो ने लखनऊ स्थित स्टार्टअप टेकईगल इंनोवशन्स को खरीदने की घोषणा की थी, जो ड्रोन से जुड़ी सेवाएं प्रदान करता है। जोमैटो ने फ़िलहाल यह नहीं बताया है की उसने इस स्टार्टअप को खरीदने के लिए कितने पैसों का भुगतान किया है।Xiaomi Redmi 8 भारत में 9 अक्टूबर को होने जा रहा है लॉन्च, इन फीचर्स और स्पेसिफिकेशन से होगा लेस!

 

बुधवार को एक बयान में, जोमैटो ने कहा कि यह परीक्षण एक हाइब्रिड ड्रोन का उपयोग करके किया गया था, जो 5 किलोग्राम की पेलोड को ले जाने के दौरान 80 किमी प्रति घंटे की अधिकतम गति के साथ लगभग 10 मिनट में 5 किलोमीटर की दूरी तय करने में सक्षम था। यह परिक्षण DGCA के मानदंडों के अनुसार एक निर्दिष्ट क्षेत्र में आयोजित किया गया था।Apple प्रमुख टीम कुक ने खुद की डिजिटल मुद्रा स्थापित करने जैसी अफवाहों पर लगाया विराम!

News Update - Fast News 123 Movies- Loot Cafe Technology- Technical Devta Health - Fitness & Beauty Study- Education Cheap Technical- Tech Lod History- Tips HD Future- Rockz Mix Blog- Blogs Guru JI  

 

जोमैटो के संस्थापक और सीईओ दीपिन्दर गोयल ने कहा कि “खाने की आपूर्ति को 30.5 मिनट से घटाकर 15 मिनट करने का एकमात्र तरीका सिर्फ हवाई मार्ग ही है सड़कों से खाने की आपूर्ति को तेजी से कर पाना संभव नहीं है हम टिकाऊ और सुरक्षित वितरण प्रौद्योगिकी के निर्माण की दिशा में काम कर रहे हैं और हमारे पहले सफल परीक्षण के साथ, ड्रोन के द्वारा खाद्य वितरण अब ना मुमकिन नहीं है”। उन्होंने कहा कि जब नियामक बाधाएं होती हैं, तो तकनीक उपयोग के लिए तैयार होती है।स्नैपड्रैगन 865 चिपसेट बनाने के लिए TSMC की बजाय सैमसंग कंपनी बनी क्वालकॉम की पहली पसंद!

 

ड्रोन में सेंसर और एक ऑनबोर्ड कंप्यूटर इनबिल्ट है, जो स्थिर और गतिशील वस्तुओं को समझने और उससे बचने के लिए है। यह हेलीकॉप्टर की तरह लंबी उड़ान भरने में सक्षम है, दूरी को कवर करने के लिए एक हवाई जहाज मोड में बदल सकता है और फिर किसी भी हवाई पट्टी की आवश्यकता के बिना ऊर्ध्वाधर (यानि हेलीकॉप्टर की तरह) लैंडिंग के लिए हेलीकॉप्टर मोड में वापस स्विच हो सकता है।यदि उपयोगकर्ता गलत रास्ते पर जाते है तो गूगल मैप का नया फीचर “ऑफ रूट” जल्द ही करेगा सचेत!

 

बयान में कहा गया है कि यह पूरी तरह से स्वचालित होने के बावजूद, सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक ड्रोन का परीक्षण वर्तमान में (रिमोट) पायलट पर्यवेक्षण के साथ किया जा रहा है।Google अपने नए वीडियो कॉलिंग एप्प Duo को Dark Mode में लाने जा रहा है!

जोमैटो द्वारा अभी 100 से ज्यादा देशों में सेवाएं दी जा रही है। इस एप्प ने 75000 से ज्यादा रेस्त्रां और होटलों से समझौता किया है ताकि उपयोगकर्ताओं के पास जल्दी से जल्दी खाना पहुंचाया जा सके।Sony ने अपने PlayStation की कीमतों में कटौती करते हुए, अब स्ट्रीमिंग गेम सेवाओं को आधा कर दिया है!

News Update - Fast News 123 Movies- Loot Cafe Technology- Technical Devta Health - Fitness & Beauty Study- Education Cheap Technical- Tech Lod History- Tips HD Future- Rockz Mix Blog- Blogs Guru JI  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here