हम सभी को पता है कि गूगल हमेशा कुछ नया करने में यकीन रखता है और इसी कढ़ी में गूगल अपने अग्रणी एंड्राइड ऐप गूगल मैप में भी एक नया फीचर जोड़ने जा रहा है। भारत के सभी गूगल मैप यूज़र्स के लिए गूगल अब “ऑफ रूट” अलर्ट फीचर का परिक्षण कर रहा है जिसका उद्देश्य यात्रा करने वाले उपयोगकर्ताओं को अधिक सुविधा एवं सुरक्षा उपलब्ध कराना है।Xiaomi Redmi 8 भारत में 9 अक्टूबर को होने जा रहा है लॉन्च, इन फीचर्स और स्पेसिफिकेशन से होगा लेस!

 

XDA डेवेलपर्स की रिपोर्ट के अनुसर पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सफर करने वाले यात्रियों को गूगल मैप के इस नए फीचर “ऑफ-रूट” की मदद से अधिक सुरक्षित रखा जा सकेगा। इस फीचर को एक्टिवेट करते ही यदि वाहन जिसमें यात्री सवार है अगर वह निर्धारित किये गए रूट से गलत रूट पर 500 मीटर की दूरी तक जाता है तो यह फीचर वाहन में सवार उपयोगकर्ताओं को तुरंत सूचित कर देगा।Google अपने नए वीडियो कॉलिंग एप्प Duo को Dark Mode में लाने जा रहा है!

 

यह फीचर न सिर्फ उपयोगकर्ता की सुरक्षा सुनिश्चित करेगा, बल्कि यह शहर के किसी अपरिचित हिस्से की यात्रा के दौरान कैब ड्राइवर, बस ड्राइवर या किसी अन्य वाहन के ड्राइवर द्वारा की जाने वाली धोकेबाज़ी से बचने में उपयोगकर्ताओं की मदद भी करेगा। गलत रूट पर जाने पर यह ड्राइवर को रीरूट नहीं करेगा, बल्कि यूजर्स के फोन पर अलर्ट भेजेगा, जिससे किसी भी आपातकाल की स्थिति से तुरंत निपटने में मदद मिलेगी।Honor’s New Turbo Tech मोबाइल गेमिंग क्षेत्र में प्लेयर्स के लिए अगले स्तर के रोमांच को जोड़ेगी!

 

फ़िलहाल अभी यह स्पष्ट नहीं है कि दूसरे देशों में भी गूगल मैप के उपयोगकर्ताओं को भविष्य में “ऑफ-रूट” फीचर की सुविधा प्रदान की जाएगी या नहीं। पर गूगल सभी भारतीय उपयोगकर्ताओं के लिए गूगल मैप्स को अपडेट करने जा रहा है, जिसमें स्पीडोमीटर और रेडार स्थानों को दिखाने जैसी अन्य सुविधाएँ उपलब्ध रहेगी।YouTube Music को जल्द ही तीन नई Personalised Playlists मिलने वाली है जो Spotify से प्रतिस्पर्धा करेगी!

 

कंपनी ने भारत में 10 सबसे बड़े शहरों में मैप उपयोगकर्ताओं की मदद के लिए लाइव ट्रेन स्टेटस सहित तीन नई सार्वजनिक परिवहन सुविधाएँ भी लॉन्च की है। जिसमें उपयोगकर्ता लाइव ट्रैफिक की मदद से बस यात्रा के दौरान गंतव्य तक पहुँचने के निर्धारित समय को देख सकेंगे तथा भारतीय रेलवे के लिए लाइव ट्रेन का स्टेटस देखने और मिश्रित-मोड वाले आवागमन जैसे- ऑटोरिक्शा, टैक्सी और अन्य पब्लिक ट्रांसपोर्ट के सुझाव उपयोगकर्ताओं को अपने मोबाइल स्क्रीन पर आसानी से मिल सकेंगे।स्नैपड्रैगन 865 चिपसेट बनाने के लिए TSMC की बजाय सैमसंग कंपनी बनी क्वालकॉम की पहली पसंद!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here